ये ख़त्म नहीं होने देंगे लॉकडाउन : दिल्ली में 1 ही दिन में 356 केस जिसमे 90% जमाती



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आख़िरकार आधिकारिक तौर पर पुरे देश में लॉक डाउन को 3 मई तक बढाने का ऐलान कर दिया

लॉक डाउन को इसलिए बढाया गया है क्यूंकि भारत में रोज नए मामलों की संख्या बढती जा रही है, अगर नए मामले बहुत कम हो जाते तो सरकार लॉक डाउन में कुछ ढील देती पर नए मामले रोज बढ़ रहे है और बड़ी संख्या में आ रही है इसी कारण सरकार को भी मज़बूरी में लॉक डाउन को बढ़ाना पड़ा 

लॉक डाउन बढाने से सरकार और देश को भारी आर्थिक नुक्सान भी हो रहा है, इकॉनमी चौपट हो रही है और लोग भी अपने काम धंधे पर वापस नहीं लग पा रहे है, देश के गरीबों पर सबसे ज्यादा मार पड़ रही है 

लॉक डाउन जारी रहने के पीछे सबसे बड़ा हाथ तबलीगी जमात का है, अब कल यानि 13 अप्रैल को दिल्ली में 1 ही दिन में 356 नए मामले सामने आये है और इनमे से 90% तबलीगी जमात के है 
356 में से 325 मामले तबलीगी जमात से जुड़े हुए है, ये वो जमाती है जो मरकज में शामिल हुए थे, ये दिल्ली का हाल है इसके अलावा तमिलनाडु जैसे राज्य में 90 के करीब मामले सामने आये है और 100% तबलीगी जमात के ही मामले है 

इन्ही मामलों के कारण देश में लॉक डाउन बढ़ चूका है, और अगर ये मामले ऐसे ही बढ़ते रहे तो ये भी माना जा रहा है की लॉक डाउन 3 मई के बाद भी बढ़ सकते है, लॉक डाउन 1 ही सूरत में हटेंगे अगर भारत में मामले कम होंगे, न के बराबर होंगे, अन्यथा देश चौपट होता रहेगा