भारत सबसे पहले बना सकता है कोरोना की वैक्सीन, 6 कंपनियां काफी आगे बढ़ी


दुनिया में कोरोना संकट के चलते चारों ओर कोहराम मचा हुआ है और दुनिया को बचाने के लिए वैज्ञानिक और डाक्टर लगे हुए है, दुनिया में 200 से ज्यादा बड़ी कम्पनियाँ कोरोना की वैक्सीन बनाने में लगी हुई है 

कुछ कंपनियों ने जानवरों पर तो कुछ ने इंसानों पर भी टेस्टिंग शुरू कर दी है, हालाँकि अभी किसी कंपनी ने आधिकारिक ऐलान नहीं किया की उसने कोरोना की वैक्सीन बना दी है 

कोरोना की वैक्सीन को लेकर अब एक अहम् जानकारी ये सामने आ रही है की भारत की दवाई कम्पनियाँ कोरोना की वैक्सीन सबसे पहले बना सकती है, भारत की कुल 6 महत्व्यपूर्ण कम्पनियाँ कोरोना की वैक्सीन पर बड़े स्तर पर काम कर रही है और ये 6 कम्पनियाँ वैक्सीन बनाने के महत्व्यपूर्ण स्टेज तक पहुँच गयी है 

इन 6 कंपनियों में ज्य्दुस कैडिला, सीरम इंस्टिट्यूट, बायोलॉजिकल इ, भारत बायोटेक, इंडियन इम्मुनोलोगिकाल्स और म्य्न्वक्स जैसी बड़ी कम्पनियाँ शामिल है 

इन कंपनियों ने अबतक 70 तरह के वैक्सीन बनाए है जिसमे से 3 वैक्सीन इंसानों पर टेस्टिंग के लिए भी तैयार हो चुकी है 

जानकारों का मानना है की कोरोना की वैक्सीन साल 2021 तक ही आ पायेगी पर जिस रफ़्तार से भारतीय कम्पनियाँ काम कर रही है ये सितम्बर 2020 में भी मुमकिन है, भारत के अलावा इजराइल, जापान, अमेरिका जैसे देश भी मानव टेस्टिंग तक पहुँच गए है

बता दें की कोरोना वायरस से अब दुनिया में 20 लाख से भी ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके है और 1 लाख 50 हज़ार से ज्यादा लोगो की मौत हुई है, दुनिया वैक्सीन की ओर देख रही है और सभी प्रमुख देश इस काम में लगे हुए है ताकि जल्द से जल्द वैक्सीन बन सके, और भारतीय कम्पनियाँ इसमें सबसे आगे है