कोरोना संकट में उन्मादियों का आतंक देख 6 मुस्लिम परिवारों ने छोड़ा इस्लाम, अपनाया हिन्दू धर्म


6 मुस्लिम परिवारों के सदस्यों ने विदेशी मजहब इस्लाम को छोड़कर अपने पूर्वजों के सनातन धर्म में घर वापसी कर ली है

मामला हरियाणा राज्य के जींद जिले का है जहाँ पर 6 मुस्लिम परिवारों ने हिन्दू धर्म में घर वापसी की है, जींद के दनौदा कलां गाँव में एक मुस्लिम परिवार के बुजुर्ग का निधन हो गया था, परिवार ने बुजुर्ग का अंतिम संस्कार हिन्दू धर्म के अनुसार दाह संस्कार करके किया

अब इसी गाँव के 6 मुस्लिम परिवारों ने इस्लाम को छोड़ दिया और सनातन धर्म अपना लिया, सनातन धर्म अपना चुके लोगो का कहना है की उनके पूर्वज हिन्दू ही थे, आतंकवादी औरंगजेब के ज़माने में डर के कारण उनके परिवारों ने इस्लाम अपना लिया था

उन्होंने ये भी कहा की - अब सोशल मीडिया और अन्य श्रोतों से घर के पढ़े लिखे युवकों को असलियत का ज्ञान हुआ तो परिवारों ने इस्लाम छोड़ कर हिन्दू धर्म में घर वापसी का फैसला किया और सभी ने घर वापसी कर ली

परिवारों ने ये भी बताया की भले औरंगजेब के ज़माने में उनके परिवारों ने इस्लाम अपना लिया था इसके बाबजूद वो भारतीय नाम ही रखते थे, उन्होंने कभी अरबी या फारसी नाम नहीं रखे, जिस बुजुर्ग का निधन हुआ था उनका नाम भी नेकाराम था


इन लोगो का ये भी कहना है की देश कोरोना संकट से जूझ रहा है और इस समय मजहबी उन्मादी आतंक मचा रहे है, ये मानवता के खिलाफ है 

आपकी जानकारी के लिए बता दें की भारत पाकिस्तान अफगानिस्तान बांग्लादेश इत्यादि के 99% मुसलमान धर्मान्तरित ही है, इनके पूर्वज हिन्दू ही थे जिन्होंने मुगलों और अन्य हमलावरों के काल में इस्लाम अपना लिया था, डीएनए टेस्ट इस बात की गवाही भी है