बहराइच में मस्जिद की भीड़ ने पुलिस पर किया हमला, 8 पुलिसकर्मियों का खून निकाला, खून के प्यासे हुए उन्मादी


कोरोना वायरस (Coron Virus) संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए सरकार लगातार अपील कर रही है कि सभी लोग अपने घरों से ही नमाज करें लेकिन शायद कुछ लोग ने ठीन ली हैं कि उन्हें राष्ट्र और मानवता के विरूद्ध ही काम करना है. 

मामला उत्तर प्रदेश के बहराइच (Bahraich) का है, जहां लॉकडाउन के बावजूद एक मस्जिद में नमाज (Namaz in Mosque) के लिए भीड़ इकट्ठा हुई. जब पुलिस ने उन्हे रोका तो पथराव कर दिया, जिसमे दारोगा सहित आधा दर्जन सिपाही घायल हो गए. वहीं पुलिस ने इस मामले में दो मौलवियों समते 32 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है.

दरअसल, खैरीघाट थाने के तेलियानपुरवा में शुक्रवार को दोपहर लॉकडाउन का उल्लंघन कर मौलवी सहित नौ लोगों ने मस्जिद में जुमे की नमाज अता की. इसी दौरान लॉकडाउन का पालन सुनिश्चित कराने निकले उपनिरीक्षक विनोद सिंह, गजेन्द्र पांडेय पुलिस बल के साथ मस्जिद के पास पहुंचे और नमाजियों से पूछताछ करने लगे. जिस पर नमाजी पुलिस से भिड़ गए, और पुलिस टीम पर डंडों से हमला कर दिया, इसके बाद जमकर पथराव किया. 

इस हमले में उपनिरीक्षक विनोद सिंह, गजेन्द्र पांडेय, सिपाही प्रभाकर गुप्ता, अमित कुमार, रोशन कुमार, अवधवीर को चोटें आई. इसकी सूचना तत्काल एसएचओ पंकज कुमार सिंह को दी गई. वह भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे, तब तक हमलावर फरार हो चुके थे. घायलों को तत्काल शिवपुर पीएचसी लाया गया.

इस मामले में उपनिरीक्षक विनोद सिंह की तहरीर पर मौलवी रमजान अली, नकछेद, शोयेब, मोहम्मद दीन, वारिश अली, शरीफ, फारूख, पप्पू, शहाबुद्दीन को नामजद किया गया है. एसपी डॉ. विपिन कुमार मिश्रा ने बताया कि लॉकडाउन का उल्लंघन, हत्या का प्रयास, सरकारी कार्य में बाधा, पथराव, बलवा व अपेडमिक एक्ट के तहत केस दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.
 
वहीं बौण्डी थाना क्षेत्र के ग्राम डिहवाकला में शुक्रवार को ग्रामीणों ने बौण्डी पुलिस को गांव की मस्जिद में नमाजियों की ओर से नमाज पढ़ने की सूचना दी. इस सूचना पर पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई. पुलिस ने मस्जिद में इकट्ठा होकर नमाज पढ़ने से मना किया. जिससे नमाजियों ने सिपाही पर हमला बोल दिया.हमले की जानकारी पाकर भारी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई, और सभी 23 नमाजियों को हिरासत में ले लिया.

मामले की जानकारी देते हुए एसओ ब्रम्हानंद सिंह ने बताया कि मस्जिद में नमाज अदा करा रहे मौलाना सईद, गुल्लऊ, इरफान, सद्दाम, अनवर अली, मोहम्मद अतीक, मोहम्मद सईद, जाकिर, ताज मोहम्मद, हजरद्दीन, ताहिर, ननकऊ, लुकमान, नफीस, इसारत, जाकिर, बदलू, अलीयार, सद्दीक, सूफियान, लल्लन, जाबिर अली, अली मोहम्मद के खिलाफ लॉकडाउन उल्लंघन व जानलेवा हमला समेत विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है. पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.