प्रशांत भूषण ने फिर फैलाई फेक न्यूज़, क़ानूनी कार्यवाही के डर से पतलून हुई गीली तो बोला - माफ़ कर दीजिये बाबा रामदेव


कुख्यात वकील प्रशांत भूषण और फेक न्यूज़ जैसे 1 ही सिक्के के दो पहलु है, प्रशांत भूषण लगभग रोज ही सोशल मीडिया के माध्यम से फेक न्यूज़ फैलाता है 

ये तमाम फेक न्यूज़ प्रशांत भूषण हिन्दू संगठनो, हिन्दू समाज के लोगो के खिलाफ फैलाता है, और आज प्रशांत भूषण ने योग गुरु रामदेव के खिलाफ एक फेक न्यूज़ फैलाई 

दरअसल रूचि सोया नाम की कंपनी सालों पहले ही कंगाल हो गयी थी, कंपनी का काम भी बंद सा पड़ा था पर इस कंपनी को बाबा रामदेव की पतंजलि के अपना पैसा लगाकर ख़रीदा, बाबा रामदेव और पतंजलि का नाम बहुत बड़ा है 

जैसे ही शेयर मार्किट को पता चला की रूचि सोया को पतंजलि ने खरीद लिया है तो लोगो ने इसके शेयर को खरीदने की होड़ लगा दी, और देखते ही देखते शेयर के दाम काफी बढ़ गए

पर प्रशांत भूषण और कांग्रेस आईटी सेल से जुड़े लोगो को ये बात हजम नहीं हुई और मोदी के खिलाफ प्रोपगंडा चलाने के लिए इन लोगो को रूचि सोया और रामदेव को लेकर फेक न्यूज़ फैलाना शुरू कर दिया और कहा की मोदी ने अपने साथी रामदेव की मदद की है और इन लोगो ने रूचि सोया की खरीद में घोटाला किया है 

कांग्रेस के समर्थको द्वारा फैलाये जा रहे इस फेक न्यूज़ को आग तब मिली जब प्रशांत भूषण ने भी इसे फैलाना शुरू कर दिया, पर वहीँ पतंजलि ने भी मन बना लिया की इसे लेकर चुप नहीं रहा जायेगा और क़ानूनी कार्यवाही की जाएगी 

प्रशांत भूषण ने झूठ इतना सफ़ेद दिलाया था की क़ानूनी कार्यवाही के डर से तुरंत उसकी पतलून गीली हो गयी और प्रशांत भूषण ने बाबा रामदेव के सामने नतमस्तक होकर माफ़ी मांग ली 

हालाँकि ये कोई पहला मामला नहीं है जब प्रशांत भूषण ने इस तरह की हरकत करके माफ़ी मांगी हो, इस से पहले भगवान कृष्ण के खिलाफ अभद्र टिपण्णी करने के बाद भी सोशल मीडिया पर प्रशांत भूषण ने माफ़ी मांगी थी 

अब देखना ये होगा की बाबा रामदेव और उनकी कंपनी पतंजलि प्रशांत भूषण पर कार्यवाही करती है या नहीं