डाक्टरों ने मांगे मास्क और ग्लव्स, पाकिस्तानी सरकार ने दिया लात, घूंसे, डंडे



ये खबर उन लोगो को बहुत बुरी लगेगी जो की भारत में रहकर पाकिस्तान की दलाली का काम करते है, आर्थिक बदहाली से गुजर रहे पाकिस्तान की हालत कोरोना वायरस के कारण और भी ज्यादा खराब हो गई है। ऐसे में बौखलाएं पाकिस्तान अब अपने यहां के डॉक्टरों पर ही लाठी-डंडे बरसा रहे हैं। बीते सोमवार को पाकिस्तान के प्रांत बलूचिस्तान में 50 डॉक्टरों को इसलिए गिरफ्तार कर लिया गया कि वे इलाज के लिए सरकार से मास्क और हैंड ग्लब्स मांग रहे थे।

दरअसल पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में कोरोना मरीजों के इलाज में जरूरी मेडिकल सुरक्षा किट की मांग करने पर कुछ डॉक्टरों समेत 150 स्वास्थ्य कर्मियों को गिरफ्तार कर लिया गया, इनमें से 50 डॉक्टर थे और बाकि अस्पताल के सहायक कर्मचारी शामिल थे। 

ये लोग सोमवार को मुख्यमंत्री के आवास के बाहर पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्यूपमेंट (PPE) किट की मांग करते हुए विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। प्रदर्शन में शामिल यंग डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष यासिर खान ने कहा कि अपनी जायज मांग को लेकर पहुंचे स्वास्थ्य कर्मियों पर पुलिस ने डंडे बरसाए।

गिरफ्तारी के बाद युवा चिकित्सकों ने विरोध के तहत मरीजों को देखना बंद कर दिया है। उनका कहना है कि पीपीई किट नहीं मिलने के कारण कोरोना मरीजों के इलाज में जुटे एक दर्जन से ज्यादा चिकित्सक संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं।

पुलिस का कहना है कि प्रदर्शन के लिए जमा हुए स्वास्थ्य कर्मियों की गिरफ्तारी धारा 144 के उल्लंघन पर की गई। पाकिस्तान में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 3,469 हो गई है। इनमें 50 मरीजों की मौत हो चुकी है।