संतो को मारने पर सवाल पुछा तो अर्नब को मारने आ गए ये दो कांग्रेस नेता, इन्होने ही किया जानलेवा हमला


जिन दो गुंडों ने पत्रकार अर्नब गोस्वामी पर जानलेवा हमला किया है उनकी पहचान हो चुकी है, इनमे से एक का नाम अरुण बोराडे और दुसरे का नाम प्रतीक मिश्रा है

ये दोनों ही बाइक पर बैठकर अर्नब गोस्वामी पर हमले के लिए आये थे, दोनों ने रात को 12 बजकर 15 मिनट पर अर्नब गोस्वामी और उनकी पत्नी पर तब हमला किया जब वो ऑफिस से घर जा रहे थे 

अर्नब गोस्वामी ने तो कल रात ही बता दिया की दोनों कांग्रेस के स्थानीय नेता है जो मारने के लिए आये थे, पर कांग्रेस ने अर्नब गोस्वामी को झूठा बता दिया 

अब FIR में इन्ही दोनों का नाम है, अरुण बोराडे और प्रतीक मिश्रा, दोनों कांग्रेस के पुराने नेता है जो लम्बे समय से कांग्रेस के लिए काम करते आये है 

पहले अरुण बोराडे की कुछ तस्वीरों पर नजर डालिए 





अब प्रतीक मिश्रा की कुछ तस्वीरों पर नजर डालिए 



प्रतीक मिश्रा NDTV के रविश कुमार का भी बड़ा प्रशंसक है, कांग्रेस की एक और नेता अलका लांबा ने अर्नब गोस्वामी पर हमले के बाद इन्हें शाबाशी भी दी है

कांग्रेस ने साफ़ कर दिया है की इस देश में कोई सोनिया गाँधी के खिलाफ नहीं बोल सकता, और अगर किसी ने बोलने की हिम्मत की तो उसे जान से मार डाला जायेगा, और कल ऐसा ही देखने को मिला, ये तो अर्नब गोस्वामी को निजी सुरक्षाकर्मियों ने बचा लिया, अन्यथा वो अकेले होते तो कदाचित उनका भी वही हाल किया जाता जो पालघर में संतों का किया गया