मुस्लिम के कहने पर झारखण्ड पुलिस ने हिन्दू दुकानदार पर मामला किया दर्ज, हिन्दू पोस्टर भी हटाया


जैसे ही एक मुस्लिम शख्स ने शिकायत की वैसे ही झारखण्ड की पुलिस एक हिन्दू दुकानदार के पीछे पड़ गई, मामला जमशेदपुर का है

एक हिन्दू दुकानदार ने अपने ठेले पर अपनी हिन्दू पहचान के तौर पर भगवान राम और शिव की तस्वीर लगाई थी और साथ ही विश्व हिन्दू परिषद् का नाम भी लिखवाया था

इस हिन्दू दुकानदार ने अपनी दूकान पर 'हिन्दू फल दूकान' लिखवाया हुआ था

इस बात से मुस्लिम भड़क गए और एक मुस्लिम ने झारखण्ड की पुलिस से इस प्रकार शिकायत की

झारखण्ड की पुलिस ने सारे काम छोड़ दिए और फ़ौरन इस मुस्लिम की शिकायत पर कार्यवाही शुरू कर दी, कुछ ही समय में झारखण्ड की पुलिस उस हिन्दू दुकान पर पहुँच गयी और भगवान राम और शिव के पोस्टर को हटा दिया और साथ ही साथ हिन्दू दुकानदार पर केस भी दर्ज कर दिया

यहाँ सबसे बड़ा सवाल तो ये खड़ा हो गया की जमशेदपुर से लेकर देश के हर शहर में हलाल मात शॉप होते है, ये मुस्लिम प्रतिक है, साथ ही साथ मुस्लिम ढाबे, मुस्लिम होटल भी होते है और धड़ल्ले से मुस्लिम पहचान के साथ चल रहे है, कुछ उदारण देखिये



ये सिर्फ कुछ उदाहरण है, आप देख सकते है की देश में मुस्लिम होटल, इस्लामिक होटल, हलाल शॉप चल रहे है और बाकायदा पोस्टर लगाकर चल रहे है, पर सेकुलरिज्म तभी आहात हो गया जब एक दुकानदार ने हिन्दू फल दूकान लिख दिया, ये सरकारी आतंकवाद पिछले काफी समय से चल रहा है और इस सरकारी आतंकवाद को ही सेकुलरिज्म कहा जाता है जहाँ टारगेट और अत्याचार का शिकार सिर्फ हिन्दू ही है