और भयानक वायरस बना रहा चीन ? कई वैज्ञानिक हो गए काले, खबरें दबा रहा चीन


चीन के कोरोना वायरस को लेकर अब दुनिया के मन में चीन के खिलाफ गुस्सा बढ़ता जा रहा है और कई देश चीन पर तरह तरह की कार्यवाही की तैयारी कर रहे है, चीन इस बात को कदाचित पहले से ही समझ रहा था की दुनिया के देश उसपर कार्यवाही करेंगे, और ऐसे में चीन एक नयी साजिश कर रहा है, वो दुनिया को एक नए किस्म के वायरस से डराकर चुप करवा देना चाहता है और वो कोरोना से भी भयंकर वायरस बना रहा है

चीन की सबसे बड़ी खासियत ये है की उसके यहाँ मीडिया और इन्टरनेट पर पूरी तरह सरकार का कण्ट्रोल है, चीन बड़ा देश है इसके बाबजूद चीन से खबरें बाहर नहीं आती, सभी मीडिया हाउस चीनी सरकार के ही है और चीनी सोशल मीडिया पर भी सरकार का कण्ट्रोल है 

पर कुछ लोग ऐसे है जो जान को जोखिम में डाल कर चीन के अन्दर होने वाली घटनाओं की जानकारियों को दुनिया के सामने रखते है, ऐसी ही एक चीनी महिला है जेनिफर जेंग जो की चीन की हरकतों पर नजर रखती है 

जेनिफर जेंग ने खुलासा किया है की चीन के कई डाक्टर और वैज्ञानिक काले पड़ गए है, ये चीनी सरकार द्वारा बनाये जा रहे वायरस पर काम कर रहे थे जिसके कारण इनको भी संक्रमण हो गया और इनके चेहरे और त्वचा काले पड़ गए 

जेनिफर जेंग के 2 चीनी डाक्टरों की तस्वीर भी सामने रखी है जो की अस्पतालों में भर्ती है और इनके चेहरे काले पड़ गए, इनको किसी खास तरह के वायरस से संक्रमण हुआ है जिसे चीन की सरकार अब बना रही है

ये दोनों ही डाक्टर वुहान शहर के चीनी वायरस इंस्टिट्यूट में काम कर रहे थे इसके अलावा दोनों ने वुहान के ही कई अस्पतालों में भी काम किया है

जानकारी ये सामने आई है की नए किस्म के वायरस से इनके कई अंगों को नुक्सान पहुंचा है और उसी के चलते ये काले हो गए है, अब चीन के इस नए वायरस के बारे में और अधिक जानकारी अबतक निकलकर सामने नहीं आई है 

पर जानकारी ये निकलकर सामने आ रही है की चीन नए किस्म के वायरस को बना रहा है, और ये वायरस चीन दुनिया को डराने और चुप कराने के मकसद से बना रहा है, दुनिया कोरोना को लेकर चीन पर कार्यवाही करना चाहती है और दुनिया में आतंक और खौफ कायम करने के मकसद से चीन अपने बड़े बड़े इंस्टिट्यूटस में नए नए वायरस बना रहा है