ये हिंदुत्व ही सदी : ब्राज़ीलियाई राष्ट्रपति ने भगवान हनुमान और रामायण को किया याद और मांगी भारत से मदद



दुनिया के बड़े बड़े देश अब दवाइयों के लिए भारत की ओर देख रहे है, अब भारत एक ऐसा ताकतवर देश बन चूका है जो दुनिया को अब कुछ दे रहा है, इसके साथ साथ अब भारत की असल संस्कृति यानि सनातन संस्कृति का भी गौरव बढ़ रहा है 

दरअसल दुनिया भर में कोरोना को लेकर मलेरिया की दवाई हाइड्रोक्सी कोलोरोकुइन की मांग हो रही है और ये दवाई भारत में ही सबसे ज्यादा बनाई जाती है, दुनिया की 70% हाइड्रोक्सी कोलोरोकुइन भारत में ही बनती है 

भारत से इस दवाई के लिए अमेरिका के साथ साथ कई बड़े छोटे देशों ने मांग की है, और ब्राज़ील ने एक खास अंदाज में भारत से इस दवाई की मांग की 

ब्राज़ील के राष्ट्रपति ने भारत के प्रधानमंत्री मोदी को एक पत्र लिखा है और उन्होंने पत्र में भगवान हनुमान और रामायण का जिक्र करके भारत से मदद मांगी है 

ब्राज़ीलियाई राष्ट्रपति ने कहा है की - जिस तरह हनुमान जी भगवान् राम के भाई लक्ष्मण के लिए संजीवनी बूटी लेकर आये थे, उसी तरह भारत भी दुनिया की मदद करे

बता दें की ब्राज़ील भारत का मित्र देश है, और इस 26 जनवरी को ब्राज़ील के राष्ट्रपति भारत में मुख्य अतिथि भी बनकर आये थे, इसके अलावा ब्राज़ील BRICS देशों में भी शामिल है, और वहां के राष्ट्रपति दवाइयों की मदद के लिए भगवान हनुमान, भगवान राम और रामायण का सहारा ले रहे है

भारत अब एक उभरती हुई ताकत है और न केवल भारत बल्की भारत की असल संस्कृति यानि सनातन संस्कृति का भी गौरव अब काफी बढ़ रहा है और उसी के चलते दुनिया के देश हमारी मदद मांगने के लिए रामायण का इस्तेमाल कर रहे है