जिनपिंग का आतंक : चीन में अफ़्रीकी लोगो पर अत्याचार शुरू, कहा तुम फैला रहे चीन में कोरोना



चीन एक आतंकवादी देश बन चूका है, अबतक पाकिस्तान को ही आतंकवादी कहा जाता था पर अब चीन को भी आतंकवादी देश कहा जा सकता है, चीन ने अपने वायरस के जरिये दुनिया में तो आतंक मचाया ही है पर अब साथ ही साथ एक तो चोरी ऊपर से सीनाजोरी वाला मामला सामने आ रहा है 

दरअसल चीन ने अपने सभी शहरों को खोल दिया है, वुहान जहाँ वायरस पैदा किया गया था उसे भी चीन ने 8 अप्रैल को खोल दिया है, और इसके साथ साथ अब चीनी सरकार ने वहां रह रहे अफ़्रीकी लोगो पर अत्याचार शुरू कर दिया है 

अफ़्रीकी लोगों को चीनी उनके किराये के मकानों से निकाल रहे है, अफ़्रीकी लोगो को बड़े पैमाने पर प्रताड़ित किया जा रहा है और जब एक अफ़्रीकी राजनयिक लोगो की मदद को पहुंचा तो चीन के प्रशासन ने उसे भी प्रताड़ित किया और जान से मार देने तक की धमकी दी और कहा की कोरोना वायरस अफ्रीका में पैदा हुआ है और तुम लोग चीन में कोरोना फैला रहे हो 


चीन जिसने खुद वायरस फैलाया है वो अब अफ्रीकियों को चीन में वायरस फैलाने का दोषी बताकर उनको चीन से खदेड़ रहा है, अफ्रीकियों को नौकरियों से, किराये के घरों से निकाला जा रहा है और कोई अफ्रीकियों की मदद को आ रहा है तो चीनी अधिकारी उसे मौत के घाट उतारने की धमकी दे रहे है और साथ कह रहे है की तुम चीन में कोरोना फैला रहे हो



बड़े पैमाने पर चीन के सभी शहरों में अफ़्रीकी लोग रहते है, ये पढाई, काम, व्यापार के लिए वीसा लेकर चीन पहुंचे है पर चीन इनपर ये कहकर अत्याचार कर रहा है की ये लोग चीन में कोरोना वायरस फैला रहे है, चीन अब दुनिया में एक नया आतंकवादी देश के रूप में उभरता जा रहा है