15 साल की जिस हिन्दू लड़की को उठाया था, उसका सैंकड़ो मजहबीयों से करवाया गया रेप, रोजाना रेप



ये खबर लिखने से पहले हम इश्वर से प्रार्थना कर रहे है की मजहबी बहुल इलाके में किसी हिन्दू को जन्म न दे और अगर दे तो कम् से कम उसे लड़की के रूप में जन्म न दे 

पिछले साल 2019 में जिस 15 साल की हिन्दू लड़की को मजहबी उन्मादियों ने उठाया था, एक मुसलमान शख्स के साथ उसका जबरन निकाह करवा दिया था, उसे कलमा पढवा कर मुसलमान बना दिया था, वो लड़की 14 महीने बाद इस्लामाबाद में मिली 

रीना और रवीना नाम की दो हिन्दू बहनों को सिंध प्रान्त से उठाया गया था, इसमें रीना 15 साल की थी और रवीना सिर्फ 13 साल की 


हिन्दू बहने, रीना और रवीना 

अब रीना इस्लामाबाद में मिली है, और उसने जो बताया है उसे जान कर आप हैरान हो जायेंगे 


त्वीट का स्क्रीनशॉट हम फिर नीचे डाल रहे है अगर वो किसी तरह डिलीट हो जाये या ट्विटर द्वारा डिलीट कर दिया जाये 



पाकिस्तान के एक्टिविस्ट राहत ऑस्टिन ने बताया है की रीना जिसे साल 2019 में सिंध से अगवा किया था वो सैंकड़ो किलोमीटर दूर इस्लामाबाद में मिली, 14 महीने में रीना के साथ जो कुछ हुआ उसे जान आप हैरान हो जाएँगे 

इस हिन्दू लड़की को पहले उठाया गया, इसका एक मुसलमान शख्स से निकाह करवाया गया, इसे मुसलमान मजहब में धर्मान्तरित कर दिया गया, मामला यहीं रुका नहीं 

इस हिन्दू लड़की को पिछले 14 महीने में सैंकड़ो मजहबी उन्मादियों को बेचा गया, सैंकड़ो मजहबी उन्मादियों ने इस हिन्दू लड़की का रेप किया, इस लड़की का पिछले साल से ही लगातार 14 महीने तक रेप किया गया

14 महीने में 430 के आसपास दिन होते है, 430 दिनों में इस हिन्दू लड़की का सैंकड़ो मजहबी उन्मादियों ने रेप किया, लगभग रोज ही रेप, और ये लड़की आखिर बार इस्लामाबाद में एक मजहबी उन्मादी को बेचीं गयी

इसकी बहन रवीना को भी अगवा किया गया था जो 13 ही साल की थी, उसका क्या हुआ ये किसी को नहीं पता, वो भी गायब है, उसके साथ क्या किया जा रहा होगा इसका अंदाजा लगाया जा सकता है 

मजहबी बहुल इलाकों में इन लड़कियों का जो हाल किया गया उसे जान हम इश्वर से फिर एक बार प्रार्थना करते है की या तो वो मजहबी बहुल इलाकों में दुसरे धर्म के लोगो को जन्म देना ही बंद कर दे और अगर दे तो लड़की के रूप में जन्म तो कभी न दे