रविश कुमार की बकलोली, बोला - अमेरिका में 40 करोड़ हो गए बेरोजगार, जबकि अमेरिका की जनसँख्या ही 33 करोड़ की


इस देश में वामपंथी तत्व डीएनए से ही ऐसे मक्कार होते है जिसके बारे में जितना बोला और लिखा जाये उतना ही कम है और ऐसे ही मक्कारो में खुद को पत्रकार कहने वाला रविश कुमार भी शामिल है 

ये अपना सरनेम छिपाता है ताकि ये दलित और पिछड़े की राजनीती कर सके, इसका पूरा नाम रविश कुमार पांडे है, इसका भाई बिहार कांग्रेस का उपाध्यक्ष था जो की रेप केस से सुर्ख़ियों में आया था, दलित लड़की का रेप किया गया था उसपर रविश कुमार मौन ही रहा, खैर 

अब रविश कुमार ने एक नयी बकलोली सामने रख दी और कह दिया की अमेरिका में 40 करोड़ लोग बेरोजगार हो चुके है 

रविश कुमार ने फेसबुक पर पोस्ट किया था जिसमे उसने अमेरिका में 40 करोड़ लोगो को बेरोजगार बताया था, पहले इसके पोस्ट को देखिये 


लोगो ने इसकी बकलोली को पकड़ लिया और बताया की अमेरिका जहाँ ये 40 करोड़ बेरोजगार बता रहा है वहां की जनसँख्या ही 33 करोड़ की है 

काफी लोगो ने इसके पोल को खोलना शुरू कर दिया तो इसने अब अपने पोस्ट को एडिट कर 4 करोड़ कर दिया 


अगर लोगो ने इसे न पकड़ा होता और न टोका होता तब ये 40 करोड़ का राग अलापता रहता, इसके सुनने वाले घोंचू किस्म के लोग भी इस ग़लतफ़हमी में जीते रहते की 40 करोड़ बेरोजगार हो गए, पर इसकी मक्कारी को जागरूक लोगो ने तुरंत ही पकड़ लिया और इसे अपनी बकलोली को सुधारना पड़ा