हिन्दू विरोधी फिल्मे बनाने में कोई बुराई नहीं, बनने दो, एन्जॉय करो : चेतन भगत



कोई हिन्दू धर्म को गाली देता है, हिन्दू समाज को गाली देता है, मंदिर को अपमानित करता है और अपनी पूरी फिल्म में घृणा ही घृणा फैलाता है तो उसमे कोई बुराई नहीं है, ये कहना है कथित लेखक चेतन भगत का 

दरअसल इन दिनों एक बड़ी ही बेहूदा वेब सीरीज की चर्चा की जा रही है जिसे अनुष्का शर्मा नाम की बॉलीवुड भांड ने बनाया है, इस बेहूदा वेब सीरीज फिल्म का नाम है पाताल लोग 

इस बेहूदा वेब सीरीज के जरिये हिन्दू समाज, हिन्दुओ और मंदिर के खिलाफ बड़े पैमाने पर नफरत फैलाई गयी है, अभिव्यक्ति की आज़ादी के नाम पर घृणा का कारोबार चलाया जा रहा है 

इस बेहूदा वेब सीरीज के चलते देश में हिन्दुओ की भावना आहात हुई है और वो उसकी आलोचना कर रहे है ऐसे दौर में चेतन भगत ऐसी फिल्मो के बचाव में उतर आया है और साथ ही साथ ये हिन्दुओ से ऐसी फिल्मो पर रिलैक्स रहने को कह रहा है 

पहले देखिये इसका क्या कहना है 
इसका कहना है की - एक हिन्दू विरोधी फिल्म से कोई फर्क नहीं पड़ता, बड़े बड़े लोग आये पर हिन्दुओ का कोई कुछ बिगाड़ नहीं सका, रिलैक्स करो, ऐसी फिल्म से कोई बुराई नहीं है, ऐसी फिल्म बनाने का तो सबको अधिकार है 

यहाँ पहला आपको बता दें की चेतन भगत एक मूर्खतापूर्ण बात कर रहा है, सच ये है की - आज का वर्तमान भारत पूरा भारत नहीं है, सिर्फ कुछ ही दशक पहले इसी भारत के 2 टुकड़े कर हिन्दुओ को पूरी तरह ख़त्म कर, हिन्दू धर्म को मिटाकर 2-2 इस्लामिक मुल्क बनाये गए जिन्हें हम पाकिस्तान और बांग्लादेश के नाम से जानते है 

35% भारत से तो सिर्फ कुछ ही दशक पहले हिन्दुओ और हिन्दू धर्म का पूरा सफाया कर दिया गया, पर चेतन भगत जैसे मूढ़ लोग कहते फिरते है की हिन्दुओ का कोई कुछ बिगाड़ नहीं सका 

साथ ही साथ चेतन भगत ये भी कह रहा है की - हिन्दू विरोधी फिल्म बनाने का तो सबको अधिकार है, हिन्दू विरोधी फिल्म बनाई जाती है तो उसका विरोध मत करो, रिलैक्स करो