ये अयोध्या में राम मंदिर हमे बिलकुल बर्दास्त नहीं, तुरंत रोको इसे, ये नहीं बनना चाहिए : इमरान खान



आतंकवादी देश पाकिस्तान ने अयोध्या में राम मंदिर को रोकने की मांग की है, बता दें की 11 मई को अयोध्या में भूमि के समतलीकरण का कार्य और 26 मई से मंदिर निर्माण का कार्य आधिकारिक रूप से शुरू हुआ था 

इस से पहले तमाम सबूतों के आधार पर कई दशकों तक केस चलने के बाद हिन्दू पक्ष ने इस केस को जीता था, राम मंदिर निर्माण से भारत के अन्दर के मजहबी उन्मादी और सेक्युलर तत्व तो बिलबिला ही रहे है, और इनके साथ साथ अब पाकिस्तान भी बिलबिला रहा है 

इस्लामिक आतंकवादी देश पाकिस्तान की सरकार और प्रधानमंत्री इमरान खान ने अयोध्या में बन रहे राम मंदिर के खिलाफ प्रस्ताव पारित किया है 

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने लिखित में राम मंदिर को रोकने की मांग की है, इसके साथ साथ इमरान खान ने कहा है की - दुनिया देख ले, भारत में हिंदुत्व की सरकार है और वहां मस्जिद की जगह मंदिर बना रहे है, हम इस मंदिर को बिलकुल बर्दास्त नहीं करेंगे और मंदिर को बनाना फ़ौरन बंद करना चाहिए, मंदिर को रोका जाना चाहिए 

देखिये 
पाकिस्तान वही देश है जिसने अपने यहाँ अल्पसंख्यको के तमाम धार्मिक स्थल तोड़कर उसपर मस्जिद बना दी, पाकिस्तान में हिन्दुओ के 99% से भी ज्यादा मंदिर तोड़ दिए गए, कई मंदिरों पर मस्जिद बना दी और कई मंदिरों को तो अब शौचालय की तरह इस्तेमाल किया जा रहा है, ऐसा पाकिस्तान भारत पर टिपण्णी कर रहा है 

वैसे ये कोई आश्चर्य की बात भी नहीं है, पाकिस्तान से यही उम्मीद थी की वो राम मंदिर का विरोध तो करेगा ही