मोहम्मद फिरोज बन गया विकास यादव, हिन्दू लड़की को फंसाया और किया उसका रेप


ऐसे अपराध इसलिए भी बढ़ रहे हैं क्योकि इन घटनाओं के खिलाफ उठने वाली आवाजों को वामपंथी वर्ग और स्वघोषित सेक्युलर समाज दबाने के हर संभव प्रयास शुरू कर देता है. ऐसी घटनाओं पर अक्सर हिन्दू विरोधी फैक्ट चेकर भी सक्रिय हो जाया करते हैं और झूठे कुतर्कों से इस मामले को ऐसे पेश करने का प्रयास शुरू कर देते हैं जैसे कि इसमें गलती लडकी से हुई हो या फिर इस मामले को दुनिया के आगे लाने का प्रयास करने वालों से.. फ़िलहाल कहना गलत नहीं होगा कि बिहार में लव जिहाद ने एक और लड़की का जीवन बर्बाद कर दिया है और नाबालिग बच्ची बनी है एक बहुरूपिये का शिकार.. 

यहाँ पर मोहम्मद फ़िरोज़ ने सोशल मीडिया पर बना रखी थी विकास यादव नाम की ID. मिली जानकारी के अनुसार सोशल साइट पर दोस्ती कर एक अपराधी ने एक नाबालिग लडकी को अपने विश्वास में लेकर एक दिन घुमाने के बहाने ले गया और सुनसान जगह पर उसके साथ रेप किया. इस दौरान लोगों ने पकड़ लिया और उससे पुलिस के हवाले कर दिया. यह घटना चेरिया बरियारपुर की है. जिस बहुरूपिये पर प्रेमिका को इतना भरोसा था कि वो उसको पहिचान ही नहीं पाई .. 

फेसबुक पर उसने फर्जी अकाउंट बनाकर नाबालिग लड़की से दोस्ती की. इसके बाद उन दोनों में बातचीत होने लगी. शातिर प्रेमी ने उससे शादी का प्रलोधन दिया. बाइक पर घुमने के बहाने ले गया और उसके साथ रेप किया. प्रेमिका के उससे विकास नाम से जानती थी लेकिन उसका असली नाम फिरोज था.

इस मामले की पड़ताल कर रही पुलिस इंस्पेक्टर विभा कुमारी ने बताया FIR दर्ज कर के विवेचना की जा रही है. अपराधी के द्वारा बताया गया नाम विकास यादव गलत नाम है. बलात्कारी के पास से मिले आधार कार्ड एवं ड्राइविंग लाइसेंस के अनुसार गिरफ्तार रेपिस्ट पश्चिमी चम्पारण जिले के लौरिया थाना क्षेत्र के विसुनपुरवा गांव के मोमिन टोला निवासी मो. फिरोज के रुप मे पहचान की गई है. 

नाबालिग किशोरी को मेडिकल जांच के लिए सदर अस्पताल बेगूसराय भेज दिया गया है. वहीं गिरफ्तार बहुरूपिये को जेल भेज दिया गया है. इस मामले में अब तथाकथित सेक्युलर और वामपंथी शक्तियाँ खामोश हैं.