बोली दिल्ली की माहूर परवेज - ये हंदवाडा में मारे गए इंडियन आर्मी वाले अपराधी थे



अगर आप सोचते है की आतंकवाद और मजहबी उन्माद में सिर्फ उन्मादी पुरुष शामिल है तो आप बिलकुल ही गलत है, महिला उन्मादी भी इस काम में बखूबी शामिल है 

भारत एक ऐसा सेक्युलर देश है जहाँ इन उन्मादियों के खिलाफ कोई कार्यवाही ही नहीं की जाती इसी कारण ये भारत की राजधानी में रहते हुए भारत के सैनिको को गाली देते है, बलिदानी सैनिको के खिलाफ अपमानजनक टिपण्णी करते है 

जिस महिला उन्मादी की तस्वीर आप ऊपर देख रहे है इसका नाम है माहूर परवेज, ये दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया से ताल्लुक रखती है 

पिछले दिनों जम्मू कश्मीर के हंदवाडा में भारत के 5 जवान बलिदानी हो गए, उन बलिदानियों को दिल्ली की राजधानी में रहने वाली माहूर परवेज गाली दे रही है, बलिदानी जवानों को अपराधी बता रही है 



इस महिला उन्मादी ने इन्स्ताग्राम पर ये पोस्ट किया जिसमे ये लिखती है की - तुम लोग इन युद्ध अपराधियों के लिए इतना बेचैन क्यों हो 

इन युद्ध अपराधियों ने जम्मू कश्मीर में पिछले 70 साल से अत्याचार मचा रखा है और जब कोई क्रांतिकारी बन्दुक उठाता है तो तुम उनको आतंकवादी बोलते हो और इन युद्ध अपराधियों को शहीद 

इस महिला उन्मादी ने फ़िलहाल अपने सभी सोशल मीडिया एकाउंट्स बंद कर दिए है 

माहूर परवेज आतंकवादियों को क्रांतिकारी बता रही है और भारत के बलिदानी सैनिको को भारत की राजधानी में ही रहकर अपराधी बता रही है, और अबतक इसके खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गयी है