चीन के सबसे बड़े फुटबॉलर ने जिनपिंग को बताया 'आतंकवादियों का सरगना', कहा - चीनी कम्युनिस्ट पार्टी दुनिया के लिए खतरा



चीन के आतंक के खिलाफ अब चीन से ही आवाज उठ रही है, चीनी सरकार ने अपने वायरस से दुनिया में जो आतंक मचाया है अब उसके खिलाफ चीन के लोग ही आवाज उठा रहे है

पहले खबर ये आयी थी की राष्ट्रपति जिनपिंग की पत्नी और बेटी दोनों उनसे अलग रहने लगे है और अब चीन के सबसे बड़े फुटबॉलर ने जिनपिंग को आतंकवादियों का सरगना बताया है

चीन के सबसे बड़े फुटबॉलर रहे हाओ हैडोंग ने कोरोना वायरस को लेकर चीनी कम्युनिस्ट पार्टी को आतंकवादी  संगठन बताया है और साथ ही साथ चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के लीडर और चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग को आतंकवादियों का लीडर यानि आतंकवादियों का सरगना बताया है

हाओ हैडोंग ने कहा है की चीन में लोकतंत्र नाम की कोई चीज नहीं है, यहाँ कम्युनिस्ट पार्टी की तानाशाही चलती है और इसी कम्युनिस्ट पार्टी ने दुनिया में कोरोना वायरस को फैलाकर लाखों लोगो की जान ली है

हाओ हैडोंग ने कहा की - कम्युनिस्ट पार्टी के चलते ही आज दुनिया भर में लोग डर के साये में रहने को मजबूर है, लाखों परिवार बर्बाद हो गए लोगो के काम धंधे भी तबाह हो गए

हाओ हैडोंग ने कहा की  दुनिया के लिए कोरोना वायरस से भी ज्यादा बड़ा खतरा तो चीनी कम्युनिस्ट पार्टी है, ये दुनिया का सबसे बड़ा आतंकवादी संगठन है जिसका लीडर जिनपिंग है

हाओ हैडोंग के बयान के बाद अब चीनी सरकार ने उनके सारे सोशल मीडिया एकाउंट्स बंद कर दिए है, चीन में सोशल मीडिया पर पूरी तरह सरकार का कण्ट्रोल है

बता दें की हाओ हैडोंग चीन के सबसे बड़े फूटबाल खिलाडी रहे है, उन्होंने चीन की ओर से सबसे ज्यादा गोल किये है और अब वो चीन में गायब कर दिए गए है, उनका फ़ोन भी बंद है और उनके सारे सोशल मीडिया एकाउंट्स भी बंद कर दिए है full-width