आतंकियों को पकड़ने पर भड़क उठा प्रशांत भूषण, पुलिस को बताया दल्ला, दी गाली


याकूब मेमन जैसे आतंकवादी और रोहिंग्या घुसबैठियों का वकील अब पुलिस को ही गाली दे रहा है क्यूंकि पुलिस आतंकवादियों और दंगाइयों को पकड़ रही है 

कोरोना आ गया इसलिए देश दिल्ली में हुए  हिन्दू विरोधी दंगों को भूल गया, फ़रवरी के महीने में दिल्ली के मजहबी बहुल इलाकों में हिन्दुओ के खिलाफ बड़े पैमाने पर दंगे किये गए थे, इन दंगों में कई हिन्दुओ को मौत के घाट उतारकर नाले में फेंक दिया गया था 

इस दंगे में आम आदमी पार्टी का नेता ताहिर हुसैन और कांग्रेस की नेता इशरत जहाँ भी शामिल थी, इसके बाद देश में मार्च के बाद कोरोना फ़ैल गया इसलिए देश के लोग दिल्ली दंगों को भूल से गए 

इस दंगे में दिल्ली पुलिस से जुड़े IB के अफसर अंकित शर्मा को भी मारा गया था, उनको ताहिर हुसैन जो की आम आदमी पार्टी का नेता है उसने अपने साथियों के साथ मिलकर मारा था, पुलिस अब एक एक कर जांच के बाद दंगाइयों और आतंकवादियों को पकड़ रही है, जिसमे अबतक कई आतंकवादियों को पकड़ा गया है 

इन आतंकवादियों में मजहबी उन्मादी तो शामिल है ही साथ ही वामपंथी आतंकवादी भी शामिल है, दिल्ली पुलिस जांच के बाद कार्यवाही कर रही है तो प्रशांत भूषण पुलिस पर इतना भड़क उठा की उसने पुलिस को ही गाली देना शुरू कर दिया 


द वायर नाम के फर्जी न्यूज़ पोर्टल की खबर को शेयर करते हुए प्रशांत भूषण ने दिल्ली पुलिस को गाली दी और कहा "दल्ला पुलिस, दिल की पुलिस", बता दें की दिल्ली पुलिस का नारा है "दिल्ली पुलिस, दिल की पुलिस", जिसे प्रशांत भूषण ने 'दल्ला' बता दिया 

कई कुख्यात आतंकवादियों और घुसबैठियों के इस वकील ने पुलिस को ही इसलिए गाली दी क्यूंकि पुलिस आतंकवादियों और दंगाइयों को पकड़ रही है, आतंकवादियों पर हो रही कार्यवाही से इसे इतनी आग लगी की धुंवा इसके अंदर से बाहर आ रहा है