छत्तीसगढ़ में चर्च के पीछे गाय को मारा और फांसी पर टांग दिया, इसाई मिशनरियां इलाके में सक्रीय



इस्लामिक कट्टरपंथी हो, सेक्युलर हो या फिर इसाई मिशनरियां हो, इनके निशाने पर सिर्फ और सिर्फ हिन्दू है, चाहे हिन्दू त्यौहार हो, हिन्दू मंदिर हो, हिन्दू धर्म से जुड़े प्रतिक हो या खुद हिन्दू ही हो 

छत्तीसगढ़ में चर्च के पीछे एक गाय को मारा गया फिर उसे फांसी पर टांग दिया गया, तडपा तडपा कर गाय को सिर्फ इसलिए मारा गया क्यूंकि हिन्दू गाय को पवित्र मानते है

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार आने के बाद से इसाई मिशनरियां पुरे फुल फॉर्म में एक्टिव हो चुकी है, बड़े पैमाने पर धर्मांतरण का खेल चल रहा है और रह रहकर हिन्दुओ के प्रति नफरत का प्रदर्शन किया जा रहा है और इसी कड़ी में गाय को चर्च के पीछे मारकर फांसी पर टांग दिया गया 

गाय को इस स्तिथि में देख लोगो ने पुलिस से इसकी शिकायत की, लोगो में रोष था और इसी कारण पुलिस को एक्शन लेना पड़ा और एक धर्मान्तरित दरिन्दे को गिरफ्तार किया गया 
गाय हिन्दू धर्म का प्रतिक है, मजहबी उन्मादी, सेक्युलर तत्व और इसाई मिशनरियां लगातार गाय के खिलाफ नफरत फैलाकर हिन्दुओ पर अटैक करती है, गाय पर एसिड अटैक और गाय की हत्या इसी कड़ी में की जाती है