भारत-इजराइल ने साइबर अटैक को लेकर ऐतहासिक संधि की, अब कभी भी ध्वस्त कर सकते है चीन को



आज वर्तमान और कल भविष्य में इन्टरनेट, डाटा ही सबकुछ होगा, इन्टरनेट से ही दुनिया चलने वाली है, चाहे वो हथियार ही या रोज मर्रा की चीजें, बाज़ार भी इन्टरनेट से चलेंगे और सेनाएं भी 

साइबर अटैक को लेकर अब भारत ने इजराइल के साथ ऐतहासिक संधि कर ली है, दोनों देश अब एक दुसरे के साथ आ गए है, इजराइल और भारत के बेहद ही मजबूत सम्बन्ध है और भारत को इजराइल की तकनीक का साथ हमेशा मिलता रहा है 

भारत सरकार ने इजराइल की सरकार के साथ साइबर अटैक को लेकर एक नयी संधि की है, इस संधि के अनुसार साइबर मामलों में दोनों देश एक है, अगर एक देश के ऊपर साइबर अटैक होता है तो इसे दुसरे देश के ऊपर भी साइबर अटैक माना जायेगा और दोनों देश ऐसी सूरत में एक टीम बनकर एक दुसरे का साथ देंगे 

मसलन अगर चीन भारत पर साइबर अटैक करता है तो ये अटैक इजराइल पर भी माना जायेगा और इजराइल ऐसे सूरत में पूरी ताकत के साथ भारत का साथ देगा 

वहीँ अगर टर्की इजराइल पर साइबर अटैक करता है तो इसे भारत पर भी अटैक माना जायेगा और भारत ऐसी सूरत में पूरी ताकत के साथ इजराइल का साथ देगा 

इजराइल के पास दुनिया की बेस्ट तकनीक है और भारत के पास मैनपॉवर है, और इजराइल तथा भारत का संगम दुनिया में की सबसे प्रबल शक्ति है 

अब भारत साइबर अटैक कर जब मन तब चीन को ठप्प कर सकता है, चीन के संचार तंत्र को बंद किया जा सकता है और इसके अलावा भी बड़े पैमाने पर चीन को ठप्प किया जा सकता है