मोदी-योगी पर निशाना साधने के लिए प्रियंका वाड्रा ने फिर किया शर्मनाक कुकृत्य, एक और घोटाला


कांग्रेस पार्टी और घोटाला ये दोनों शब्द कदाचित एक ही है, मोदी-योगी-बीजेपी पर निशाना साधना विपक्ष का हक़ है, पर सिर्फ निशाना साधने के लिए झूठ, प्रपंच करना ये बेहद आपत्तिजनक और शर्मनाक कुकृत्य है

प्रियंका वाड्रा पिछले कई मौको पर मोदी-योगी पर निशाना साधने के लिए झूठ और प्रपंच कर चुकी है, कई बार उनके प्रपंच का खुलासा भी हुआ है इसके बाद भी प्रपंच करने की आदत ऐसी की प्रियंका वाड्रा ने फिर एक बार प्रपंच किया 

मोदी योगी पर निशाना साधने के लिए प्रियंका वाड्रा ने सोशल मीडिया पर बाढ़ की तस्वीरें डाली और इन तस्वीरों को यूपी-बिहार-असम का बताया

देखिये 

प्रियंका वाड्रा ने इन तस्वीरों के जरिये राजनीती की, आपको बता दें की ये तस्वीरें बांग्लादेश  न की असम-बिहार-यूपी की, और ये तस्वीरें भी सालों पुरानी है 

प्रियंका वाड्रा ने जो तस्वीर डाली उसकी असलियत देखिये 



ये तस्वीर बांग्लादेश की है वो भी साल 2017 की, वहीँ दूसरी तस्वीर देखिये 



ये तस्वीर साल 2019 की है

इन पुरानी तस्वीरों के जरिये प्रियंका वाड्रा आज जुलाई 2020 में राजनीती कर रही है, आये दिन कांग्रेस के नेता कोई न कोई नया घोटाला करते है, इनके घोटाले पकडे भी जाते है पर कदाचित घोटाला ही कांग्रेस का मुख्य काम है जिसे करना वो छोड़ ही नहीं सकते