भूमिपूजन पर 250 मुसलमानों ने इस्लाम छोड़ा, सभी बने रामभक्त, स्वीकारा हिन्दू धर्म


अयोध्या में 5 अगस्त को भूमिपूजन के साथ ही राम मंदिर का पुनर्निर्माण शुरू हो गया, इसके साथ ही 50 मुस्लिम परिवारों के 250 मुसलमानों ने इस्लाम को छोड़कर हिन्दू धर्म स्वीकार कर लिया 

ये घटना राजस्थान के बारमेर जिले में घटित हुई जहाँ 50 मुस्लिम परिवारों के 250 मुस्लिम सदस्यों ने इस्लाम को हमेशा हमेशा के लिए छोड़ दिया और सनातन धर्म में घर वापसी की, सभी रामभक्त बन गए, बारमेर के कल्ला पंचायत के मोतिसारा गाँव में इन लोगो ने हिन्दू धर्म को स्वीकार किया 

5 अगस्त को इन सभी ने गाँव में हवन पूजन का कार्यक्रम आयोजित किया, पुरुषों ने जनेऊ भी धारण किया और हिन्दू धर्म अपनाया, उन्होंने बताया की सबकुछ उन्होंने अपनी इक्षा से किया 

हिन्दू धर्म स्वीकार करने वाले एक व्यक्ति ने कहा की हमारे पूर्वज हिन्दू थे और उन्हें मुगलों ने डरा धमकाकर मुसलमान बनाया था, पर जैसे ही हमे इतिहास का ज्ञान हुआ तो हम लोगो ने वापस हिन्दू धर्म में घर वापसी का मन बनाया और भूमिपूजन वाले दिन को घर वापसी के लिए चुना, इस व्यक्ति ने अपना नाम सुभनराम रख लिया 

एक और व्यक्ति जिसने अपना नाम अब हाजरीराम रख लिया है उन्होंने बताया की उनके पूर्वजों का इतिहास हिन्दू धर्म का है और वो कंचन दाढ़ी जाति से सम्बंधित है

लोगो ने ये भी बताया की हिन्दू धर्म अपनाने वाले अधिकतर लोगो ने अपने नाम में राम शब्द को भी जोड़ा है और वो सब रामभक्त बन चुके है, लोगो ने ये भी बताया की अयोध्या राम मंदिर के भूमिपूजन और पुनर्निर्माण से वो बेहद खुश हैं