भड़ककर कांग्रेस सांसद ने कहा - "राम कोई था ही नहीं, राम का कोई सबूत नहीं, फिर उसका मंदिर किसलिए"


अंतोनिया माइनो उर्फ़ सोनिया गाँधी जब देश की सत्ता में थी तब सोनिया गाँधी की सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा था की - हमे राम सेतु तोडना है, राम तो कोई था ही नहीं, राम का कोई अस्तित्व ही नहीं है तो फिर राम सेतु काहे का

अब 5 अगस्त को राम मंदिर के भूमिपूजन से पहले कांग्रेस के नेता एक एक कर बिलबिला रहे है और एक कांग्रेस नेता ने तो यहाँ तक कह दिया की - अयोध्या में ही प्रलय आ जाये, अयोध्या धंस जाये, भूमिपूजन ही न हो 

अब कांग्रेस का एक सांसद आज फिर राम मंदिर पर भड़क गया और लाइव टीवी डिबेट में कहा की - राम तो कोई था ही नहीं, राम का कोई सबूत नहीं, तो फिर राम मंदिर काहे का 

इस कांग्रेस सांसद का नाम अभी कुमार केतकर, इसकी तस्वीर आप ऊपर देख सकते है

जी न्यूज़ के डिबेट में कुमार केतकर ने भगवान् राम को काल्पनिक बता दिया और राम के होने का सबूत माँगा, और राम मंदिर पर ही सवाल उठा दिए की राम कोई था ही नहीं तो फिर राम मंदिर काहे का 
कांग्रेस चाहती है की राम मंदिर का निर्माण रुक जाये, कांग्रेस का कोई नेता अयोध्या में ही प्रलय लाने की, अयोध्या को धंसाने की बात करता है, तो कांग्रेस का कोई नेता राम को ही काल्पनिक बताकर राम मंदिर को ही बेवजह का बताता है, 

कुमार केतकर जो राम को काल्पनिक बता रहा है ये कांग्रेस का राज्यसभा सांसद है, कांग्रेस नेताओं ने कभी जीजस, अल्लाह के होने का सबूत नहीं माँगा, पर राम के होने का सबूत इनको रोज चाहिए