रिया चक्रबर्ती को क्लीन चिट देने वाले राजदीप ने दावूद इब्राहीम को बताया था देशभक्त, दलाली का है पुराना रिकॉर्ड


राजदीप सरदेसाई को आप राजदीप दल्लादेसाई भी कह सकते है, ये शख्स पत्रकार के नाम पर ,गुंडे, बदमाशों, माफियाओं का दल्ला है और दल्लागिरी में राजदीप सरदेसाई का पुराना रिकॉर्ड है 

आतंकवादियों ने भारत के संसद पर हमला किया था और राजदीप सरदेसाई ने हमले वाले दिन को "ग्रेट डे" बताया था 

राजदीप सरदेसाई अब रिया चक्रबर्ती को क्लीन चिट दे रहा है, इस से पहले सरदेसाई ने कहा था की - सुशांत तो छोटा मोटा एक्टर था, उसपर इतनी चर्चा क्यों चल रही है 

राजदीप सरदेसाई अब रिया चक्रबर्ती का इंटरव्यू कर रहा है और उसे निर्दोष साबित करने की कोशिश कर रहा है, सरदेसाई रिया चक्रबर्ती को ही विक्टिम के रूप में दिखा रहा है 

ये कोई पहला मामला नहीं है जहाँ राजदीप सरदेसाई अपराधियों का सहयोग कर रहा हो, इस से पहले इसने कुख्यात आतंकवादी दावूद इब्राहीम को देशभक्त भी बताया था 

1993 में मुंबई में सीरियल ब्लास्ट हुए थे, हिन्दुओ को निशाना बनाया गया था, इस बम ब्लास्ट के पीछे दावूद इब्राहीम था, इसी ब्लास्ट के बाद वो देश छोड़कर भाग गया 

सरदेसाई ने एक लेख में इसी दावूद इब्राहीम को देशभक्त बताया था, सरदेसाई ने एक लेख लिखा था जिसमे उसने कहा था की - "क्रिकेट के मैदान में दर्शको की भीड़ में एक शख्स बैठा था, जो जोर जोर से तिरंगा लहरा रहा था, वो कोई और नहीं बल्कि दावूद इब्राहीम था" 

सरदेसाई ने दावूद इब्राहीम को एक देशभक्त बताया था 
राजदीप सरदेसाई पत्रकारिता के नाम पर आतंकवादियों को भी देशभक्त बता चूका है, संसद पर हमला होता है तो उसे वो ग्रेट डे बताता है, अब यही राजदीप सरदेसाई रिया चक्रबर्ती को विक्टिम बताने में जुटा हुआ है, बोलना ही पड़ेगा की एक से बड़े एक दलाल हुए इस देश में पर दलाली में राजदीप सरदेसाई का कोई सानी नहीं है