"टोक्यो के पास एक शहर का नाम देवी लक्ष्मी के नाम पर रखा गया है, जापान में हिन्दू धर्म का इतिहास हज़ारो साल पुराना" : जापानी राजनयिक


जापान जो की दुनिया के सबसे विकसित देशों में से एक है वहां की राजधानी टोक्यो के पास एक शहर है जिसका नाम देवी लक्ष्मी के नाम पर रखा गया है 

ये जानकारी खुद जापान के राजनयिक ताकयुकी कितागावा ने दी, ताकयुकी कितागावा भारत में जापान के राजनयिक है जिन्होंने बताया की - हमारी राजधानी टोक्यो के पास एक शहर है जिसका नाम किचीओजी है और ये नाम देवी लक्ष्मी के नाम पर रखा गया है 

जापानी राजनयिक ने बताया की किचीओजी का जापानी में मतलब होता है लक्ष्मी का मंदिर, किचीओजी शहर की जब स्थापना हुई तो इसका नाम देवी लक्ष्मी के नाम पर रखने का विचार किया गया और फिर जाकर इसका नाम किचीओजी रख दिया गया जिसका मतलब था लक्ष्मी का मंदिर 

जापानी राजनयिक ने ये बात बेंगलुरु में बताई, उन्होंने ये भी बताया की जापान में बहुत से देवी देवताओं का ओरिजिन भारत और हिन्दू धर्म ही है, कई जापानी देवी देवता असल में हिन्दू देवी देवताओं का ही रूप है जिनका जापानी भाषा में नाम रखा गया है पर मूल रूप से वो हिन्दू देवी देवता ही है 

जापानी राजनयिक ने बताया की साड़ियों से जापान में हिन्दू देवी देवताओं की पूजा की जा रही है और जापान के कल्चर पर हिन्दू धर्म का भारी प्रभाव भी है, उन्होंने बताया की जापान में एक देवी का नाम बेनज़ीटेन है, वो ज्ञान, संगीत की देवी है और वो मूल रूप से हिन्दू देवी सरस्वती ही है 


उन्होंने ये भी बताया की इसी तरह भगवान् गणेश, लक्ष्मी, विष्णु इत्यादि के भी जापानी नाम है और जापान में इनकी भी पूजा की जाती है 

जापानी राजनयिक ने बताया की जापान में कई किताबें लिखी गयी है जिनमे भारत के साथ जापान के रिश्तों के बारे में लिखते हुए हिन्दू धर्म के कई उल्लेख है, जापान में हिन्दू धर्मं का इतिहास हजारों वर्ष पुराना है