कानपुर में एक और हिन्दू लड़की का शिकार, हाथ में कलावा, मंदिर में पूजा, भरोसा जीत धोखे से तस्वीरें ली, अब मुसलमान बनाने के लिए दबाव


एक के बाद एक हिन्दू लड़कियों का शिकार किया जा रहा है, रोज ही कोई न कोई नया मामला सामने आ जाता है और कानपुर में तो अब ये आम सा हो चला है

कानपुर में अब एक और हिन्दू लड़की का लव जिहादी ने शिकार कर दिया है, हिन्दू लड़की को धोखे से फंसाया है, उसका शारीरिक शोषण किया है और मुस्लमान बनाने के लिए ब्लैकमेल भी किया है 

हाथ में कलावा भी बाँधा, मंदिर में पूजा भी की, नाम बदलकर हिन्दू लड़की को फंसाया, लड़की फंस गयी तो नशीला पदार्थ देकर उसका शारीरिक शोषण किया और अश्लील विडियो और तस्वीरें ले ली, उसके बाद ब्लैकमेल शुरू कर दिया मुस्लमान बनने के लिए और निकाह करने के लिए

लव जिहादी की तस्वीर को आप ऊपर देख सकते है, इसका नाम लकी खान है, जानकारी के मुताबिक यह पूरा मामला बजरिया थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है. पीड़िता के मुताबिक उसके पिता का देहांत हो चुका है, घर चलाने के लिए वह फूल बेंचकर पैसा कमाती है. उसकी दुकान मंदिर के ठीक बगल में है, जहां से करीब 350 मीटर की दूरी पर मुस्लिम समुदाय का युवक लकी खान एक दुकान पर काम करता था. एक दिन लकी को किसी काम के लिए फूल चाहिए थे जिसे लेने वह दुकान पर गया तो वहां लड़की को देखकर उसका दीवाना हो गया. अब युवक रोजाना लड़की का दीदार करने के लिए किसी न किसी बहाने से उधर से गुजरने लगा. जब दूर से देखे में भी उसका मन नहीं भरा तो मंदिर जाने लगा.

युवक की तलब बढ़ रही थी, अब वह युवती से फूल खरीदने के बहाने दिन में 5-6 बार मंदिर जाने लगा. एक दिन आरोपी ने युवती से थोक में फूल लेने के सिलसिले में नंबर मांगा इस दौरान उसने खुद को हिंदू और अपना नाम लकी बताया, हालांकि उसने अपना पूरा नाम छिपा लिया. युवक किसी न किसी बहाने युवकी को कॉल करने लगा. इस दौरान उसने दोस्ती का प्रस्ताव रखा जिसे लड़की ने एक्सेप्ट कर लिया. धीर-धीरे मेलमिलाप बढ़ा और दोनों एक दूसरे के करीब आ गए.

पीड़िता के मुताबिक एक दिन आरोपी ने उसे मिलने के लिए बुलाया वहां उसे नशीली दवा देकर आपत्तिजनक तस्वीरें ले लीं, पीड़िता को लगा कि उसकी तबियत खराब थी इसीलिए चक्कर आ गया. दोनों की बातचीत चलती रही. वहीं एक दिन युवती को आरोपी की हकीकत पता चल गई कि वह हिंदू नहीं बल्कि मुसलमान है और उसका पूरा नाम लकी खान है. इसके बाद युवती ने उससे किनारा कर लिया औऱ बात करना बंद दिया. एक दिन आरोपी उसकी दुकान पर आय़ा औऱ कहा कि मुसलमान बन जाओं और मेरे से निकाह कर लो, जिसे पीड़िता ने साफ तौर पर मना कर दिया. इंकार सुनते ही लकी भड़क गया औऱ उसने जेब से मोबाइल निकालकर उसकी अश्लील तस्वीरें दिखाई जो उसने बेहोशी की हालत में उस दिन ले ली थीं.

पीड़िता के मुताबिक आरोपी ने कहा कि अगर तुमने मुसलमान बनकर मेरे से ऩिकाह नहीं किया तो मैं तुम्हारी गंदीं तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल कर दूंगा जिसके बाद न तो तुम किसी को मुंह दिखाने लायक बचोगी और न ही शादी के. लकी की धमकी से नाबालिग पीड़िता डरी सहमी है. मां के साथ थोने पहुंचकर नाबालिग ने पुलिस को तहरीर दी, जिसपर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आरोपी लकी खान को गरिफ्तार लिया है.

यूपी में लव जिहाद की घटनाएं बीच-बीच में आती रही हैं लेकिन इस मामले ने कानपुर शालिनी यादव कांड के बाद से तूल पकड़ा है. शालिनी के परिजनों के आरोपों के बाद जिले में लव जिहाद की परतें खुलने लगी. देखते ही देखते 8 ऐसे मामले सामने आ गए जिनमें लगभग एक ही कहानी है, वहीं सभी मामलों में आरोपियों के संबंध किदवई नगर के जूही लाल कालोनी से बताए जा रहे हैं. इसके अलावा लड़कियों को शिकार बनाने का पैटर्न भी एक जैसा है, सभी लड़कियों को फंसाने के लिए तबसे चारा डाला गया जब वे नासमझ थीं, आरोपी तब संपंर्क में आए जब लड़कियों की आयु 15-16 साल थी, फिर लड़की के 18 साल होते ही उसे बहला-फुसलाकर भगा ले जाया गया और फिर धर्मांतरण उसके बाद निकाह.

लड़कियों के परिजनों ने किदवई नगर की जूही लाल कालोनी में लव जिहाद को बढ़ावा देने के लिए ट्रेनिंग सेंटर चलने और बाहर से फंडिंग का आरोप लगाया है. इसके अलावा परिजनों ने लड़कियों पर वशीकरण, तंत्रमंत्र करने का भी आरोप लगाया है. गुरूवार को बरामद हुई गोविंद नगर इलाके की रहने वाली 18 वर्षीय मुस्कान तिवारी के पास से ताबीज, चाय में डालकर पिलाने वाला कथित रूप से वशीकण पाउडर भी मिला है. पुलिस भी ट्रेंनिग कैंप, बाहर से फंडिंग जैसे आरोपों से इंकार नहीं कर रही है, यही कारण है कि इन्हें जांच के बिंदुओं में शामिल करके एसआईटी ने इंवेस्टीगेशन शुरू कर दी है.