बिहार सरकार द्वारा CBI को केस देने पर भडकी शिवसेना, कहा - "नहीं हो सकती CBI जांच बिहार सरकार के कहने पे"


सुशांत के पिता ने पटना पुलिस से शिकायत की जिसके बाद उनकी शिकायत पर पटना पुलिस ने FIR दर्ज किया, FIR दर्ज होने के बाद केस की जांच के लिए बिहार पुलिस की टीम मुंबई आई, इसके बाद बिहार के एक आईपीएस को भी मुंबई भेजा गया 

महाराष्ट्र की सरकार ने बिहार पुलिस को जांच करने नहीं दिया और शर्मनाक हरकतें की, इसके बाद आज बिहार की नितीश सरकार ने सुशांत केस को सीबीआई को सौंप दिया

यहाँ सबसे पहले आपको कानून बता दें की बिहार सरकार बिहार में दर्ज हुए केस को लेकर सीबीआई जांच की सिफारिश कर सकती है, केस सुशांत के पिता के कहने पर बिहार में दर्ज हुआ है और बिहार की सरकार के पास सीबीआई जांच की सिफारिश के पॉवर संविधानिक तौर पर है 

आज शिवसेना इस बात पर भड़क गई की सुशांत केस को आखिर बिहार की सरकार ने सीबीआई को कैसे सौंप दिया 

भड़कते हुए शिवसेना की राज्यसभा सांसद और प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा की - सुशांत मामले को बिहार की सरकार सीबीआई को नहीं दे सकती, बिहार सरकार के कहने पर सीबीआई जांच नहीं हो सकती, जांच सिर्फ महाराष्ट्र की सरकार करेगी और सिर्फ महाराष्ट्र की सरकार ही सीबीआई जांच की सिफारिश कर सकती है 

देखिये किस तरह शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी भडकी 
सुशांत मामले को दबाने के लिए महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने पूरी कोशिश की, खुद 1 केस तक दर्ज नहीं किया, बिहार से पुलिस आई तो उनको भी काम नहीं करने दिया, अब बिहार की सरकार ने केस सीबीआई को दे दिया तो शिवसेना पैनिक मोड़ पर है, कुछ भी हो सुशांत के हत्यारे अब ज्यादा दिनों तक बचे नहीं रहेंगे