"ऐ #@$# पुजारी, मंदिर में बंद कर भजन, हमारे फ़ोन कॉल में पड़ रही खलल... वरना... उन्नाव में आतंक

 

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में लाउडस्पीकर पर आरती बजने के चलते मंदिर के पुजारी को धमकाने का मामला सामने आ रहा है. बताया जा रहा है कि पुजारी को इसलिए धमकी दी गई क्योंकि वह लाउडस्पीकर पर आरती करा रहे थे

मजहबी उन्मादियों द्वरा मिली धमकी के बाद इलाके में तनाव फैल गया. सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले को शांत कराया औऱ पुजारी की तहरीर पर पुलिस ने जिहादियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर तीनो को हिरासत में ले लिया है, वहीं तनाव के चलते इलाके में पुलिसकर्मियों की तैनाती कर दी गई है.

जानकारी के मुताबिक यह पूरा मामला माखी थाना क्षेत्र के थाना गांव का बताया जा रहा है. जहां निवासी प्रमोद सिंह (पुजारी) ने पुलिस को दी गई तहरीर में बताया की गांव में बाजार के निकट स्थित आशांबरी देवी मंदिर में शनिवार देर रात को पूजा अर्चना हो रही थी. इस दौरान आरती लाउडस्पीकर पर बज रही थी. 

पूजा-पाठ के बाद वापस घर जाते समय रास्ते में गांव के ही निवासी मुन्ना, जमील, रहीश पुत्र मजीद अली ने लाउडस्पीकर न बजाने को लेकर धमकी दी. उन्होंने पुजारी को गालियाँ देते हुए कहा की - मंदिर के भजन से फ़ोन कॉल में खलल पड़ रही है और अब यहाँ भजन नहीं बजेगा, आगे से भजन बजाया तो जान से मार देंगे

तहरीर के मुताबिक इस दौरान गाली-गलौज भी शुरू हो गई. देखते ही देखते दूसरे पक्ष के सैकड़ों लोग एकत्र हो गए और दोनों पक्षों के बीच माहौल गरम हो गया था, इसी बीच किसी ने पुलिस को सूचना दी. कुछ देर में माखी थाना पुलिस के साथ ही सदर कोतवाली पुलिस व सीओ सफीपुर भी मौके पर पहुंच गये और दोनों पक्षों को समझा बुझाकर मामले को शांत कराया दिया. 

इस संबंध में थाना प्रभारी पवन कुमार सोनकर ने बताया कि वादी प्रमोद की तहरीर के आधार पर तीन लोगों पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया तथा आरोपी मुन्ना पुत्र मजीद, जमील व रहीश को हिरासत में ले लिया गया है.