चीन के मुखपत्र ने कहा - "नरेंद्र मोदी को सत्ता से उखाड़कर फेंक देगी हमारी कांग्रेस, मोदी पर अब बनेगा प्रेशर"


साल 2008 में चीनी की कम्युनिस्ट पार्टी और अन्टोनिया माइनो उर्फ़ सोनिया गाँधी की कांग्रेस के बीच एक सीक्रेट यानि गुप्त समझौता किया गया था 

इस समझौते पर राहुल गाँधी ने भी हस्ताक्षर किये थे और वर्तमान चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग ने भी, अब इन दिनों भारत की मौजूदा मोदी सरकार चीन की बैंड बजा रही है, भारतीय सेना चीनी सेना को धुल चटा रही है और दुनिया भर में भी कई देश चीन के खिलाफ और भारत के साथ खड़े हो रहे है 

चीन ने अब इसी बीच भारत की कांग्रेस पार्टी का खुलकर समर्थन कर दिया है और भारत की सत्ता से नरेंद्र मोदी को हटाने की मांग कर दी है 

कांग्रेस भी भारत की सत्ता से नरेंद्र मोदी को हटाना चाहती है और चीन भी ये ही चाहता है की भारत की सत्ता से नरेंद्र मोदी हट जाये और फिर कांग्रेस को भारत की सत्ता मिल जाये, कांग्रेस और चीन का अब मकसद एक हो चूका है और चीन ने खुलकर कांग्रेस का समर्थन भी शुरू कर दिया है 

चीन के सरकारी मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स ने जो बात कही पहले वो देखिये 
ग्लोबल टाइम्स ने कहा की - नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर अब प्रेशर बनाया जायेगा, ये प्रेशर इंडिया  में हमारी कांग्रेस पार्टी बनाएगी, और यही प्रेशर बीजेपी और नरेंद्र मोदी को सत्ता से बाहर करेगा 

ग्लोबल टाइम्स चीन का सबसे बड़ा सरकारी अख़बार है और इसे सीधे जिनपिंग की सरकार ही चलाती है, और इसके द्वारा खुलकर मोदी का विरोध और कांग्रेस का समर्थन किया जा रहा है 

इस से पहले कांग्रेस और चीन की कम्युनिस्ट पार्टी ने सीक्रेट डील भी की थी और फिर राहुल गाँधी ने दिल्ली में चीनी राजदूत से गुपचुप मुलाकात भी की थी और मुलाकात में प्रियंका वाड्रा और रोबर्ट वाड्रा भी शामिल थे