जिनपिंग का वहसीपना, गर्भवती महिला का पेट कटवाया और उसके बच्चे को मारकर उसके सामने रख दिया

 

जिस तरह का वहसीपना जिनपिंग के नेतृत्व में चीन में दिखाया जा रहा है उस का वहसीपना सिर्फ राक्षस कर सकते है, चीन के वामपंथी ये साबित कर रहे है की आज की दुनिया में वही राक्षस है, इन राक्षसों ने ISIS और तमाम इस्लामी आतंकियों को भी वहसीपने में पीछे छोड़ दिया है 

एक गर्भवती महिला जो जिसके पेट में 5 महीने का बच्चा(भ्रूण) था, उसे अगवा किया गया, उसके बच्चे को मार डाला गया और उसके बाद उस महिला के सामने उस बच्चे को रख दिया गया, ऊपर तस्वीर में आप जिनपिंग की सरकार के कारनामे को देख सकते है 

इस महिला का नाम 'जिन यनी' है, ये महिला शादी के बाद गर्भवती हो गयी, ये गरीब थी, चीनी सरकार ने इस से सड़क निर्ममाण के लिए मजदूरी करने को कहा, चूँकि महिला 5 महीने की गर्भवती थी, इसी कारण उसने मजदूरी करने से इंकार कर दिया पर उस से जबरजस्ती मजदूरी करवाई गयी, महिला ने इसके खिलाफ आवाज उठाई और जिनपिंग सरकार की आलोचना की 

इसके बाद इस महिला को जिनपिंग सरकार के अधिकारीयों ने अगवा कर लिया और इसे एक कैंप में लेकर गए, ये महिला चीन के हेबेई प्रान्त की रहने वाली थी, इसे अगवा कर चंगली काउंटी फॅमिली प्लानिंग सर्विस स्टेशन ले जाया गया 

वहां इस महिला का जबरन गर्भपात कर दिया गया, इस महिला का भ्रूण 5 महीने का हो चूका था इसी कारण वो मरने के बाद भी गुप्तांग से बाहर नहीं का सका तो इस महिला का पेट काटकर इसके भ्रूण को निकाल दिया गया, इसके बाद इस महिला को बेड पर लिटाया गया और इसके सामने ही इसके बच्चे (भ्रूण) को रख दिया गया 

भ्रूण 5 महीने का था इसी कारण उसका सर, हाथ, पैर डेवेलोप हो चूका था जो इस महिला को दिखाया गया, और इसे बताया गया की ये देख सरकार से पंगा लेने का अंजाम, अब तुझे मजदूरी करनी ही होगी और अगर मजदूरी से अब इंकार किया तो तेरा भी यही हाल करेंगे 

भ्रूण इसे दिखाने के बाद कचरे में फेंक दिया गया, महिला को इतना सदमा लगा की वो 20 दिनों तक कुछ बोल ही न सकी, बाद में ये महिला कुछ ठीक हुई तो इस से मजदूरी करवाई गयी, सिर्फ इतना ही नहीं, इस महिला से एबॉर्शन की फीस भी ली गयी, इसके एबॉर्शन की फीस इसकी मजदूरी में से काट ली गयी