शादी तक खूब सेक्युलर बन रहा था मोईन कुरैशी, शादी होते ही हिन्दू लड़की को मुसलमान बनाने के लिए पीटने लगा


गुजरात में एक सेक्युलर हिन्दू लड़की की जिंदगी अब नर्क बन चुकी है, उसने मोईन कुरैशी पर भरोसा किया था, मोईन कुरैशी उसे बहुत अच्छा लगता था और लड़की की ये सोच थी की - उसका वाला अलग है 

अहमदाबाद पुलिस ने मोइन कुरैशी नाम के उन्मादी के खिलाफ उसी की पत्नी के शिकायत पर एफआईआर दर्ज किया है। पत्नी ने अपने शौहर के खिलाफ धोखाधड़ी का आरोप लगाया है। कुरैशी की पत्नी नयना (बदला हुआ नाम) जन्म से हिंदू है। 

उसने बताया कि उसके पति ने शादी से पहले उससे वादा किया कि वह कभी भी उसे हिंदू धर्म छोड़ने और इस्लाम अपनाने के लिए मजबूर नहीं करेगा। लेकिन बाद में मोईन कुरैशी ने कथित तौर पर उसपर अत्याचार करना शुरू कर दिया और नयना पर इस्लाम धर्म कबूलने का दबाव डाला।

अहमदाबाद पुलिस ने उसकी शिकायत के आधार पर, मोइन कुरैशी के खिलाफ आईपीसी की धारा 498-ए और 294-बी के तहत मामला दर्ज किया है और मामले की जाँच शुरू कर दी है।

सोशल मीडिया पर जारी एक वीडियो में नयना बताती है कि उसके साथ वास्तव में क्या हुआ था। गुजराती में बोलते हुए, नयना कहती हैं कि शादी से पहले कुरैशी ने उससे अहमदाबाद के पॉश इलाके शाहीबाग में रहने का दावा किया था। लेकिन बाद में यह सामने आया कि कुरैशी दुधेश्वर नामक किसी इलाके में रहते था।

उसने आगे कहा कुरैशी ने उससे वादा किया था कि उसे इस्लाम में धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर नहीं किया जाएगा और शादी के बाद भी हिंदू धर्म के अनुसार रह सकती है। पहले डेढ़ साल तक कुरैशी ने कुछ नहीं कहा, लेकिन उसके बाद चीजें बदल गई।

पिछले डेढ़ महीने से अपने माता-पिता के साथ रह रही हिंदू लड़की नयना ने कहा कि फरवरी 2017 में उसने मोइन से साथ कोर्ट मैरिज की थी। कुरैशी ने 2018 में रमज़ान के दौरान उसपर इस्लाम अपनाने के लिए दबाव डालना शुरू किया। इसके अलावा छोटी-छोटी बातों पर उसने झगड़े शुरू कर दिए।

वहीं 16 जनवरी, 2020 को उसके बेटे का जन्म हुआ तो कुरैशी ने नयना को अपने बेटे का हिंदू नाम रखने से मना कर दिया। नयना बताया कि बच्चे के जन्म के बाद उनका रिश्ता और अधिक तनावपूर्ण हो गया था। जब उसने अपनी समस्याओं के बारे में अपनी माँ से बात की तो उसे समझौता करने के लिए कहा गया। 

23 जुलाई, 2020 को कुरैशी ने नयना और अपने बेटे को उसके माता-पिता के घर ले गया और उन्हें वहाँ छोड़ दिया। तब से नयना, अपने बेटे के साथ अपने माता-पिता के साथ रह रही है। नयना ने अपने पति पर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए न्याय माँगा है।