हाथरस पीडिता के भाई की पोल खुली, आरोपी संदीप से 5 घंटे तक फ़ोन पर बातें, कह रहा था - आजतक नहीं की है बात


हाथरस के मामले में धीरे धीरे कांग्रेस पार्टी और मीडिया तथा मृतक दलित लड़की के परिवार की सच्चाई सामने आती जा रही है 

अब समझ में आ रहा है की आखिर आरोपियों का परिवार सीबीआई जांच का स्वागत क्यों कर रहा है और मृतक का भाई, माँ और परिवार सीबीआई जांच से क्यों इंकार कर रहे है 

इस मामले में अब मृतक दलित लड़की के भाई की पोल खुल चुकी है, मृतक के भाई ने पहले कहा था की उसने आजतक आरोपी संदीप से बातचीत नहीं की है और न ही वो उसे जानता था 

जबकि सच ये सामने आया है की पिछले 1 साल में फ़ोन पर आरोपी संदीप और मृतक लड़की के भाई ने सैंकड़ो बार एक दुसरे से फ़ोन पर बातचीत की थी और इन दोनों के बीच 1 साल में 5 घंटो तक बातचीत हुई थी 

मृतक लड़की के भाई की कॉल रिकार्ड्स के जरिये ये जानकारी सामने आई है 

ये भी जानकारी सामने आ चुकी है की आरोपी संदीप और मृतक लड़की में मित्रता थी और दोनों फ़ोन पर बातचीत किया करते थे और इसी चलते मृतक का भाई नाराज भी चलता था 

इस मामले में योगी सरकार ने पहले नार्को टेस्ट की बात कही थी, आरोपी का परिवार नार्को टेस्ट के लिए मान गया पर मृतक लड़की का परिवार नार्को टेस्ट से इंकार करता रहा, फिर सरकार ने सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी तो इसका भी आरोपियों के परिवारों ने स्वागत किया जबकि मृतक के भाई माँ और परिवार ने सीबीआई जांच से इंकार कर दिया